Month: July 2018

120सेकंड

केवल 120 सेकंड और आपका ध्यान… हम इंसान हैं तभी तो हमारे अपने व्यक्तिगत तर्क हैं, विचार हैं और अपना व्यक्तिगत ज्ञान हैं। हम जीवन भर किताबों के पीछे भागकर, अनुभव हासिल कर भी संपूर्णता नहीं पा सकते। बड़ी से बड़ी...

Khwahish

तु आते हो लगता है ज़िन्दगी में संगीत के तार जुड़ गए हो, जैसे कोयल कुहूकने लगी हो, जैसे मीठी सी खुशबु धीमे से अंदर पहुँचकर सुकून की धुन बजा रही हो। तुम्हारे आने से ही दिल में घंटी बज उठती...

इश्क़

कोई जब अपना बिछड़ जाये तो क्या कीजिये, इश्क़ जब नज़रों से उतर जाये तो क्या कीजिये हम बदहवास से खोए उनकी मखमली यादों में और वो सितम ढाते चला जाये तो क्या कीजिये -अज़ीम...